नेशनल पेंशन स्कीम क्या है ? – यहाँ पढ़ें, उद्देश्य | पात्रता मापदंड | लाभ | इन्वेस्ट कैसे करें!



हर व्यक्ति रिटायरमेंट के बाद अपना भविष्य सुरक्षित करना चाहता है। इसके लिए कई तरह के इन्वेस्टमेंट प्लान उपलब्ध हैं जिनका आप लाभ उठा सकते हैं और अपने रिटायरमेंट के बाद की लाइफ को सुरक्षित रख सकते हैं। इनमें सबसे पहले नाम आता है,  नेशनल पेंशन स्कीम (एनपीएस) का, जिससे आपको 60 साल की उम्र के बाद हर महीने 50,000 रुपये तक की पेंशन मिल सकती है। आइए इस लेख के माध्यम से जानते हैं आखिर कैसे आप नेशनल पेंशन स्कीम के माध्यम से सेवानिवृत्ति के बाद 50000 रुपये मासिक पेंशन प्राप्त कर सकते हैं।

नेशनल पेंशन सिस्टम (National Pension System) एक ऐसी योजना है, जिसके जरिए आप बुढ़ापे में भी पैसों के मामले में आत्मनिर्भर रह सकते हैं। यह सरकार की एक ऐसी योजना है, जो 10 फीसदी से ज्यादा रिटर्न देती है। यह उन योजनाओं में से एक है जो कम जोखिम के साथ बड़ा रिटर्न देती है।

पहले नेशनल पेंशन स्कीम (National Pension Scheme) केवल सरकारी कर्मचारियों के लिए ही उपलब्ध थी। हालांकि, सरकार ने अब इसे सभी लोगों के लिए खोल दिया है। कोई भी भारतीय नागरिक कुछ महत्वपूर्ण शर्तों का पालन करके इस नई पेंशन स्कीम का लाभ उठा सकता है। अगर आप इनकम टैक्स कटौती के दायरे में आ रहे हैं तो भी आप इस स्कीम को लेकर टैक्स से बच सकते हैं।

एनपीएस में आपको हर महीने निवेश (Investment) करना होता है। आप तय कर सकते हैं कि यह राशि कितनी होनी चाहिए और उसके बाद हर महीने आपके बैंक खाते से राशि अपने आप कट जाती है।

यहाँ पढ़ें – भारत के बेस्ट सेविंग प्लान कौन-कौन से हैं?

नेशनल पेंशन स्कीम क्या है? | What is National Pension Scheme in Hindi

एनपीएस या नेशनल पेंशन स्कीम गवर्नमेंट ऑफ़ इंडिया द्वारा शुरू किया गया इन्वेस्टमेंट कम पेंशन प्लान है। यह योजना पेंशन फंड नियामक और विकास प्राधिकरण (Pension Fund Regulatory and Development Authority) द्वारा विनियमित (regulated) और प्रशासित (administered) है। भारत सरकार द्वारा इस स्कीम को स्टार्ट करने का मुख्य उद्देश्य भारत के सीनियर सिटीजन्स को फ्यूचर के लिए फाइनेंसियल सिक्योरिटी प्रदान करना है। नेशनल पेंशन स्कीम (NPS) प्रभावशाली लॉन्ग-टर्म सेविंग्स ऑप्शन प्रदान करती है ताकि कोई भी व्यक्ति इस मार्केट बेस्ड प्लानिंग में इन्वेस्ट करके अपने रिटायरमेंट के समय की कुशलता से प्लानिंग कर सके।

नेशनल पेंशन स्कीम (NPS) एक वोलंटरी रिटायरमेंट सेविंग स्कीम है, जिसे ग्राहकों को उनके कामकाजी जीवन के दौरान व्यवस्थित सेविंग्स के माध्यम से अपने भविष्य के बारे में सही निर्णय लेने में सक्षम बनाने के लिए डिज़ाइन किया गया है। एनपीएस (NPS) नागरिकों में रिटायरमेंट के लिए बचत करने की आदत डालने का प्रयास करता है। यह भारत के प्रत्येक नागरिक को पर्याप्त रिटायरमेंट आय प्रदान करने की समस्या का स्थायी समाधान खोजने की दिशा में एक सफल प्रयास है।

एनपीएस (NPS) के तहत, पर्सनल सेविंग्स को एक पेंशन फंड में जमा किया जाता है, जिसे पीएफआरडीए (PFRDA) के रेगुलेटेड प्रोफेशनल फंड मैनेजर्स द्वारा एप्रूव्ड इन्वेस्टमेंट दिशानिर्देशों के अनुसार विविध पोर्टफोलियो में इन्वेस्ट किया जाता है जिसमें सरकारी बांड, बिल, कॉर्पोरेट डिबेंचर और शेयर (Share) शामिल होते हैं।

जानें यूलिप क्या है और यूलिप में कैसे इन्वेस्ट करें

नेशनल पेंशन स्कीम में इन्वेस्टमेंट करने के लिए कौन-सी बैंक सबसे अच्छी है?

वर्तमान में, एनपीएस के 8 फंड मैनेजर हैं जो नीचे सूचीबद्ध हैं:

  • एलआईसी पेंशन फंड
  • एसबीआई पेंशन फंड्स प्राइवेट लिमिटेड
  • एचडीएफसी पेंशन मैनेजमेंट कंपनी लिमिटेड
  • आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल पेंशन फंड मैनेजमेंट कंपनी लिमिटेड
  • आदित्य बिड़ला सन लाइफ पेंशन मैनेजमेंट लिमिटेड
  • यूटीआई सेवानिवृत्ति समाधान लिमिटेड
  • रिलायंस पेंशन फंड
  • कोटक महिंद्रा पेंशन फंड लिमिटेड

ये फंड बैंकिंग वित्त क्षेत्र, सरकारी प्रतिभूतियों, वित्तीय संस्थानों और अन्य में निवेश करते हैं। रिटर्न फंड में अंतर्निहित परिसंपत्तियों (underlying assets) के प्रदर्शन पर निर्भर करता है।


नेशनल पेंशन स्कीम कैलकुलेटर

पेंशन कैलकुलेटर एक ऐसा ऑनलाइन टूल्स है, जो किसी भी व्यक्ति द्वारा पेंशन स्कीम के तहत रिटायरमेंट के समय मिलने वाले एस्टिमेटेड लम्प सम अमाउंट और पेंशन अमाउंट की गणना करने करने में सहायता करता है। पेंशन स्कीम कैलकुलेटर ( Pension Scheme Calculator) वह टूल्स है जहाँ आप कुछ निर्धारित फील्ड में अपनी इन्वेस्टमेंट की राशि को फिल करके आपके रिटायरमेंट के समय में मिलने वाली राशि का पता लगाने में सक्षम हो सकते हैं।

रिटायरमेंट या पेंशन कैलकुलेटर के साथ अपनी रिटायरमेंट की प्लानिंग बनाना आसान हो जाता है। यह एक ऐसा टूल्स है जो आपको यह अनुमान लगाने में मदद करता है कि आपके रिटायरमेंट के वर्षों में आपको कितनी इनकम या धन की आवश्यकता होगी।

पेंशन कैलकुलेटर रिटायरमेंट प्लानिंग में कैसे मदद करता है?

रिटायरमेंट के बाद भले ही कोई काम करना बंद कर दे, लेकिन खर्चे नहीं रुकते हैं इसलिए रिटायरमेंट की प्लानिंग करना बहुत जरुरी है। पेंशन कैलकुलेटर रिटायरमेंट की प्लानिंग के लिए एक इफेक्टिव टूल्स (Effective Tools) है। एक पेंशन कैलकुलेटर इस बात की जानकारी प्रदान करता है कि रिटायरमेंट के बाद एक आरामदायक जीवन जीने के लिए कितनी राशि की आवश्यकता होगी। जानकारी जानने के लिए, एक पेंशन कैलकुलेटर को कुछ जानकारी की आवश्यकता होती है, जिनके बारे में हम विस्तृत विवरण नीचे जानेंगे।

  • जन्म तिथि (डीओबी) – आपकी डेट ऑफ़ बर्थ के आधार पर, पेंशन स्कीम कैलकुलेटर (Pension Scheme Calculator) रिटायरमेंट के बाद आवश्यक डिपाजिट अमाउंट के लिए आपको योजना में योगदान करने के लिए कितने वर्षों की आवश्यकता होगी, इसकी गणना (Calculation) करेगा।
  • इन्वेस्टमेंट अमाउंट- इसके तहत उस अमाउंट की आवश्यक होगी जो आप प्रति माह (Per Months) इन्वेस्ट करना चाहते हैं।
  • इन्वेस्टमेंट के बाद मिलने वाला एक्सपेक्टेड अमाउंट – इन्वेस्टमेंट के बाद मिलने वाले एक्सपेक्टेड अमाउंट।
  • एक्सपेक्टेड एन्युटी रेट – एक्सपेक्टेड एन्युटी रेट अर्थात एन्युटी (annuity) की वह राशि जो आप अपनी पेंशन से प्राप्त करना चाहते हैं।

एक बार जब आप सभी विवरण दर्ज कर लेते हैं, तो पेंशन कैलकुलेटर एक साथ एस्टिमेटेड लम्प सम अमाउंट (Estimated Lump Sum Amount) और मचुरिटी (Maturity) के समय आपको मिलने वाली पेंशन राशि (Pension Amount) की गणना करेगा।

मान लीजिए आप या आपके जीवनसाथी की उम्र 35 वर्ष है और आप चाहते हैं कि 60 वर्ष की आयु के बाद आपको या आपके जीवनसाथी को 50,000 रुपये मासिक पेंशन मिले। ऐसे में आपको इस योजना में हर महीने 15,000 रुपये का निवेश करना होगा। यह रकम आपको 60 साल की उम्र तक जमा करनी होगी। इस तरह आपको 25 साल में इस योजना में 45 लाख रुपये जमा करने होंगे। 60 साल की उम्र पूरी करने के बाद आपकी मैच्योरिटी राशि करीब 2 करोड़ रुपये होगी। इसमें से आपको 50 फीसदी यानी लगभग 1 करोड़ रुपये एकमुश्त और शेष 1 करोड़ रुपये हर महीने पेंशन के रूप में मिलेगा।

अगर उस समय एन्युटी की दर 6 फीसदी है तो आपको हर महीने करीब 50,000 रुपये की पेंशन मिलेगी। योजना धारक (Policy Holder) की मृत्यु होने की स्थिति में उसके नामांकित व्यक्ति (Nominee) को शेष राशि एकमुश्त दी जाएगी। कोविड-19 महामारी और अनिश्चित माहौल को देखते हुए लोग ऐसी योजना में काफी दिलचस्पी दिखा रहे हैं।

हमें उम्मीद है, कि इस लेख के माध्यम से आप यह तो जान ही चुके होंगे की आखिर कैसे आप नेशनल पेंशन स्कीम के माध्यम से सेवानिवृत्ति (Retirement) के बाद 50000 रुपये मासिक पेंशन (Monthly Pension) प्राप्त कर सकते हैं। यदि आपको इस लेख से सम्बंधित कोई प्रश्न है या फिर आप किसी अन्य तरह के लेखों को पढ़ने की इच्छा रखते हैं, तो हमें कमेंट सेक्शन में बताएं और इस लेख को ज्यादा से ज्यादा लोगों के साथ शेयर करें जिससे अन्य लोग भी इस लेख के माध्यम से रिटायरमेंट के बाद 50000 रुपये मंथली पेंशन प्राप्त करने के लिए टिप्स जान सकें।